Search
  • Abhishek

Sad Poems In Hindi, Sad Love Poetry In Hindi


Sad Poems In Hindi 2021. तेरे इश्क़ में कुछ ऐसा निखर! Best Sad Poetry In Hindi, Sad Love Poems. गया हूँ मैं...

MagicalShayari.com पर आपका स्वागत है। यहाँ पर नयी नयी Best Hindi Sad Poems मिलती है। Read the newest new breakup sad poetry In Hindi, heartbreaking sad Emotional poems poerty in hindi With Images.

Best collection of new sad poems in hindi on love life. broken heart poems hindi For Girlfriend, Boyfriend with HD images. You can Like, share and follow us With Your Love.



Heart Touching Love Sad Poems In Hindi 2021


बूँद बूँद बनकर बिखर गया हूँ मैं,

तेरे इश्क़ में कुछ ऐसा निखर गया हूँ मैं,

फना हो चूका हूँ मैं कब का अंदर से,

अरे वार जो हुआ था दिल पे प्यार के खंज़र से,

तुमसे मैं नाराज़ रहूँ ऐसा मेरा प्यार नहीं,

होगा तुम्हारा कोई और पर बदला मेरा प्यार नहीं,

टूटे दिल में आज भी तुम्हे ही बसा रखा हूँ,

भले ही टूटा है ये फिर भी तुम्हे सजा रखा हूँ,

जब भी तुम चाहो मुझे बस इशारा कर देना,

अभी भी तुम्हारा ही हूँ मुझे गैर मत कर देना।



Boond boond bankar bikhar gaya hun main,

tere ishq mein kuch aisa nikhar gaya hun main,

fanaa ho chuka hun main kab ka andar se,

are waar jo hua tha dil pe pyar ke khanzar se,

tumse main naraz rahun aisa mera pyar nahi,

hoga tumhara koi aur par badla mera pyar nahi,

toote dil mein aaj bhi tumhe hi basa rakha hun,

bhale hi toota hai ye fir bhi tumhe saza rakha hun,

jab bhi tum chaho mujhe bas ishara kar dena,

abhi bhi tumhara hi hun mujhe gair mat kar dena.

- Abhishek Gupta



Best Broken Heart Love Sad Poetry In Hindi


विश्वास नहीं होता है अब किसी पे मुझे,

ज़ख्म ही मिला है हर किसी से मुझे,

कभी एक जीने की वजह भी टकरा गयी राह में,

सोचा यही है वो मंज़िल निकला हूँ जिसकी चाह में,

पर वही तो किस्मत को कहाँ मंज़ूर था ख़ुशी मेरी,

इसलिए मुझे अधमरा छोड़ दिया छीनकर ज़िन्दगी मेरी,

किसी को क्या दोष दूँ अब मैं उस काबिल नहीं,

क्योंकि धोखे जैसे गुनाह में मैं शामिल नहीं,

ज़िन्दगी में मुझे अब किसी पर ऐतबार नहीं करना,

दिल तो मेरा रहा नहीं तो अब कभी किसी से प्यार नहीं करना।



Vishwas nahi hota hai ab kisi pe mujhe,

zakhm hi mila hai har kise se mujhe,

kabhi ek jeene ki wajah bhi takra gayi raah mein,

socha yahi hai wo manzil nikala hun jiski chaah mein,

par wahi to kismat ko kahan manzur tha khushi meri,

isliye mujhe adhmara chod diya chhenkar zindagi meri,

kisi ko kya dosh dun ab main us kaabil nahi,

kyonki dhoke jaise gunah mein main shaamil nahi,

zindagi mein mujhe ab kisi par aitbaar nahi karna,

dil to mera raha nahi to ab kabhi kisi se pyar nahi karna.


By - Abhishek Gupta


#HeartTouchingPoems #BrokenHeartPoems #EmotionalPoems #DardBhariKavita

13 views

Shayari Categories  

Status Categories 

Follow Us
  • Facebook Basic Square
  • Instagram Social Icon
  • Pinterest Social Icon
  • Twitter Basic Square
  • Google+ Basic Square
Magicalshayari.com Copyright © 2021, All Rights Reserved.
Latest Best Shayari in Hindi, Love, Sad, All Category Shayari, SMS Messages, Status, Quotes in Hindi.
DMCA.com Protection Status