• Abhishek

Mehfilen Kam Nahi Hai Abhi

महफिलें कम नहीं हैं अभी भी यहाँ,

पर जहाँ वो नहीं वहाँ सिर्फ मेरे लिए तन्हाई है। 🙁😓


Mehfilen kam nahi hain abhi bhi yahan,

par jahan wo nahi wahan sirf mere liye tanhai hai. 🙁😓



वो कहते थे की हम जान दे देंगे तुम्हारे लिए,

दो कदम साथ चलकर हाथ छोड़ दिया पता नहीं किसके लिए। 🤔😣


Wo kehte the ki hum jaan de denge tumhare liye,

do kadam sath chalkar hath chhod diya pata nahi kiske liye. 🤔😣

855 views

Related Posts

See All

Muskurane ka Man Kar Raha Hai

आज फिर मुस्कुराने का मन कर रहा है, बिना आग के ही लोगों को जलाने का मन कर रहा है! Aaj fir muskurane ka man kar raha hai, bina aag ke hi logon ko jalane ka man kar raha hai ! मैं जैसा भी हूँ ठीक हूँ, क्

Shayari Categories

Status Categories 

Follow Us
  • Facebook Basic Square
  • Instagram Social Icon
  • Pinterest Social Icon
  • Twitter Basic Square
  • Google+ Basic Square