Search
  • Abhishek

Hindi Poems On Life, Life Poetry In Hindi, Zindagi Poem


Poems on life in Hindi 2021. सोचो तो क्या पाया ज़िन्दगी में! Best Short Life Poetry In Hindi. हमेशा दौड़ भागकर..

MagicalShayari.com पर आपका स्वागत है। यहाँ पर नयी नयी Best Hindi Poems On Life Values मिलती है। Read the newest new Sad Life poetry In Hindi, Short poems on Life and Death beautiful images.

Best collection of new Poems About Life In Hindi for Student. Zindagi poems poetry in hindi By Abhishek Gupta. Latest Life poetry in hindi love life For Girlfriend, Boyfriend with HD images. You can Like, share and follow us With Your Love.



Zindagi Chali Gayi, Hindi Poems On Life 2021



ज़िन्दगी का बीता समय ही अक्सर क्यों अच्छा होता है,

रात आराम देता है फिर भी सुबह क्यों अच्छा होता है,

सोचो तो क्या पाया ज़िन्दगी में हमेशा दौड़ भागकर,

सुकून मिलता है तभी जब पलकें बंद कर लो हार मानकर,

ऐसे ही पछ्तावों का मंज़र रास्तों में बिछ जायेगा,

अगर समय पर कुछ नहीं किया तो सब कुछ बिखर जायेगा,

कुछ सपनो को पूरा करने के लिए अपनों को छोड़ना पड़ता है,

ज़िन्दगी एक दौड़ है यहाँ हर किसी को दौड़ना पड़ता है,

ज़िन्दगी तो है पर ज़िन्दगी में ज़िन्दगी कहाँ चली गयी,

ढूंढ़ने से भी नहीं मिलेंगे वो पल जो बीते कल में चली गयी।



Zindagi ka beeta samay hi aksar kyon achha hota hai,

raat aaram deta hai fir bhi subah kyon achha hota hai,

socho to kya paya zindagi mein hamesha daud bhaagkar,

sukoon milta hai tabhi jab palken band kar lo haar maankar,

aise hi pachtavon ka manazar raston mein bichh jayega,

agar samay par kuch nahi kiya to sab kuch bikhar jayega,

kuch sapno ko pura karne ke liye apno ko chhodna padta hai,

zindagi ek daud hai yahan har kisi ko daudna padta hai,

zindagi to hai par zindagi mein zindagi kahan chali gayi,

dhundhne se bhi nahi milenge wo pal jo beete kal mein chali gayi.


- Abhishek Gupta



Kahan Gaya, Best Sad Life Poetry in Hindi



क्यों किताबों में नहीं लिखा ज़िन्दगी कैसे जियें,

हज़ार मुसीबतों का ज़हर एक साथ कैसे पिएं,

ज़िन्दगी बिखरती जा रही है ज़िन्दगी के नाम पर,

धन्धे बनते जा रहे हैं सफलता के नाम पर,

एक एक लम्हा बीता जा रहा है जो महत्वपूर्ण है,

पर इसका उपयोग कैसे करें जब ज़िन्दगी अपूर्ण है,

जब प्यार के नाम पर ज़िन्दगी कुर्बान करते थे वो ज़माना कहाँ गया,

आज प्यार सिर्फ शरीर की जरुरत है वो पवित्र प्रेम कहाँ गया.

आजकल वफ़ादारी के नाम पर लोग गद्दारी करते जा रहे हैं,

इसलिए आये दिन रिश्ते फैशन की तरह बदलते जा रहे हैं।



Kyon kitabon mein nahi likha zindagi kaise jiyen,

hazar musibaton ka zahar ek sath kaise piyen,

zindagi bikharti ja rahi hai zindagi ke naam par,

dhandhe bante ja rahe hain safalta ke naam par,

ek ek lamha beeta ja raha hai jo mahatavpurna hai,

par iska upyog kaise karen jab zindagi apurna hai,

jab pyar ke naam par zindagi kurban karte the wo zamana kahan gaya,

aaj pyar sirf sharir ki jarurat hai wo pavitra prem kahan gaya.

aajkal wafadari ke naam par log gaddari karte ja rahe hain,

isliye aaye din rishte fashion ki tarah badalte ja rahe hain.


- Abhishek Gupta


#ZindagiPoems

27 views

Shayari Categories  

Status Categories 

Follow Us
  • Facebook Basic Square
  • Instagram Social Icon
  • Pinterest Social Icon
  • Twitter Basic Square
  • Google+ Basic Square
Magicalshayari.com Copyright © 2021, All Rights Reserved.
Latest Best Shayari in Hindi, Love, Sad, All Category Shayari, SMS Messages, Status, Quotes in Hindi.
DMCA.com Protection Status